You are currently viewing आज तेजी आयेगी या मंदी | सरसों के बाजार में क्या है माहौल | देखें सरसों की साप्ताहिक तेजी मंदी रिपोर्ट

आज तेजी आयेगी या मंदी | सरसों के बाजार में क्या है माहौल | देखें सरसों की साप्ताहिक तेजी मंदी रिपोर्ट

किसान साथियो ये सप्ताह सरसों किसानों पिछला हफ्ता सरसों किसानों के लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं था। सरसों के भाव 200 रुपये प्रति क्विंटल तक लुढ़क गए। शनिवार को शाम होते होते भाव में थोड़ा सुधार जरूर बना लेकिन कुल मिलाकर तेजी जैसा कोई माहौल नहीं दिखा।
विदेशी बाजारों की पतली हालत ने बाजारों को बढ़ने नहीं दिया। मलेशिया, इंडोनेशिया, चीन और अमेरिका के बाजारों में लगातार मंदी देखने को मिल रही है। हालांकि शुक्रवार को बाजार बंद होने से पहले इसमें थोड़ी रिकवरी देखने को मिली है। मलेशियाई तेल बोर्ड पाम तेल के आंकड़े सोमवार को जारी करेगा जिसके आधार पर खाद्य तेलों की आगे की दिशा बनेगी। WhatsApp पर भाव देखने के लिए यहां क्लिक करें

पिछले सोमवार को जयपुर में 42 लैब सरसों के भाव 5900 रुपये प्रति क्विंटल चल रहे थे जो कि शनिवार को 150 रुपये की गिरावट के बाद 5750 रुपये के स्तर पर आ गए। इसी तरह से भरतपुर में सरसों के रेट 5535 रुपये के स्तर से गिरकर शनिवार को 5383 के लेवल पर बंद हुए। सबसे ज्यादा गिरावट दिल्ली लॉरेंस रोड पर हुई जहां सरसों के भाव में उपर से 300 रुपये उड़ गए भाव 5650 से गिर कर 5350 के रह गए। पूरे हफ्ते के दौरान सोयाबीन के भाव भी 200 रुपये तक लुढ़क गए।

हाजिर मंडियों के ताजा भाव की बात करें तो राजस्थान की नोहर मंडी में सरसों का रेट 5150, रावतसर मंडी में सरसों का रेट 4800 लैब 39, गजसिंहपुर मंडी में सरसों का रेट 4990, गोलूवाला मंडी में सरसों का रेट 5064, जैतसर मंडी में सरसों का रेट बाजार 5039 लैब 39.69, संगरिया मंडी में सरसों का रेट 5091 रायसिंहनगर मंडी में सरसों का रेट 5148 केसरी सिंहपुर मंडी में सरसों का रेट 5086 श्री करणपुर मंडी में सरसों का रेट 5034 देवली मंडी में 42% सरसों का भाव 5450 रावला मंडी में सरसों का रेट 5060 श्री गंगानगर मंडी में सरसों का रेट 5160 और मुरैना मंडी में सरसों का रेट 5050 और मेड़ता मंडी में सरसों का टॉप भाव 5200 प्रति क्विंटल तक दर्ज किया गया। हरियाणा की मंदिरों की बात करें तो ऐलनाबाद मंडी में सरसों का भाव 5000, शिवानी मंडी में 40 लैब सरसों का रेट 5275 आदमपुर मंडी में 41.31 लैब सरसों का रेट 5160 सिरसा मंडी में सरसों का टॉप भाव 5051 बरवाला मंडी में सरसों का भाव 5252 और हिसार मंडी में सरसों का रेट 5200 प्रति क्विंटल तक दर्ज किया गया

पूरे हफ्ते में ब्रांडेड तेल मिलों पर भी सरसों के भाव में अच्छी खासी गिरावट देखने को मिली। सलोनी प्लांट पर सरसों के भाव 6400 रुपए प्रति क्विंटल से गिरकर 6200 प्रति क्विंटल हो गए। आगरा में बीपी और शारदा प्लांट पर लगभग 150 रुपए की गिरावट हुई और अंतिम भाव 5950 प्रति क्विंटल के रहे। सबसे कम गिरावट गोयल कोटा प्लांट पर देखने को मिला जहां पर सरसों के भाव में मात्र ₹100 की कमजोरी देखने को मिली शनिवार को बाजार बंद होने से पहले सरसों के भाव 5700 प्रति क्विंटल के थे

विदेशी बाजारों का हाल भी कुछ ज्यादा अच्छा नहीं रहा। मलेशिया डेरिवेटिव्स बर्सा मलेशिया एक्सचेंज (बीएमडी) पर दिसंबर डिलीवरी के लिए पाम तेल वायदा अनुबंध पूरे हफ्ते में 4055 से गिर कर 3874 के स्तर पर आ गया इसमे 181 रिंगिट यानी 4.46 % की गिरावट हुई । सोयाबीन के भाव में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिली। पिछले एक हफ्ते के दौरान अमेरिकी बाजार शिकागो में CBOT पर सोया तेल की कीमतें 5 % तक कमजोर हुई।

हाल फ़िलहाल के बाजार की बात करें तो हाजिर मंडियों में सरसों के टोप भाव 5000 से लेकर 5300 के रेंज में चल रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में गिरावट को देखते हुए भारतीय बाजारों में व्यापारियों की सरसों तेल में मांग कमजोर होने से मंडियों में सरसों पर दबाव है। लेकिन अब नैफेड बिक्री की खबर ठंडी हो गई है। इसलिए शनिवार को प्लांटों से लेकर हाजिर मंडियों में 50 रु तक सुधार हुआ है। घटे भाव पर आवक भी कमजोर देखने को मिल रही है। शनिवार को सरसों की आवक 4.25 लाख बोरी से घटकर 3.25 बोरी की रह गई । आज भी बाजार में मामूली सुधार देखने को मिल सकता है। शनिवार को सोया और पाम तेल के भाव लगभग स्थिर रहे हैं। मलेशिया पाम ऑयल बोर्ड की मासिक रिपोर्ट आज दोपहर बाद आएगी उसके बाद बाजार की दिशा बनेगी। व्यापार अपने विवेक से करें

👉 यहाँ देखें फसलों की तेजी मंदी रिपोर्ट

👉 यहाँ देखें आज के ताजा मंडी भाव

👉 बासमती के बाजार में क्या है हलचल यहाँ देखें

About the Author
मैं लवकेश कौशिक, भारतीय नौसेना से रिटायर्ड एक नौसैनिक, Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मैं मूल रूप से हरियाणा के झज्जर जिले का निवासी हूँ। मंडी मार्केट( Mandibhavtoday.net) को मूल रूप से पाठकों  को ज्वलंत मुद्दों को ठीक से समझाने और मार्केट और इसके ट्रेंड की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।

Leave a Reply